me>

बीजेपी के वादे सिर्फ ड्रामेबाजी और कुर्सी हथियाने की चाल थी: सोनिया गाँधी

सोनिया गाँधी ने कहा कि कांग्रेस ने ही राष्ट्र निर्माण में सबसे ज्यादा योगदान दिया है. आज हमारे जो चुनौतियां हैं, वो मामूली नहीं है. हमें उसका डटकर सामना करना है.

0
44
सोनिया गाँधी

नई दिल्ली: शनिवार को दिल्ली में कांग्रेस पार्टी के 84वें महाधिवेशन में अपने संबोधन में सोनिया गांधी ने मोदी सरकार और बीजेपी की जमकर आलोचना की. सोनिया गांधी ने कहा कि मोदी सरकार के तानाशाही तौर-तरीकों, संसद का अनादर, विभाजनकारी विचारधारा, विपक्ष के खिलाफ फर्जी मुकदमे लगाना और मीडिया को सताना जैसे षडयंत्र का पर्दाफाश करने में कांग्रेस आगे रहकर संघर्ष कर रही है.

 

अपने संबोधन में सोनिया गाँधी ने कहा कि कांग्रेस ने ही राष्ट्र निर्माण में सबसे ज्यादा योगदान दिया है. आज हमारे जो चुनौतियां हैं, वो मामूली नहीं है. हमें उसका डटकर सामना करना है. हमें ऐसा भारत बनाना है, जो सत्ता के भय और मनमानी से मुक्त हो. ऐसा भारत जिसमें हर व्यक्ति के जीवन की गरिमा बनी रहे. पक्षपात मुक्त भारत, प्रतिशोध मुक्त भारत, अहंकार मुक्त भारत. इसके लिए हर कांग्रेसजन को बलिदान देने के लिए तैयार रहना चाहिए.

 

सोनिया गाँधी ने साधा मोदी सरकार पर निशाना-

सोनिया गांधी ने मौजूदा केंद्र सरकार को भी आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा, ‘आज देखकर बहुत दुख होता है कि मनरेगा जैसी हमारी योजनाओं को मोदी सरकार कमजोर कर रही है और नजरअंदाज कर रही है. पिछले चार साल में कांग्रेस को बर्बाद करने के लिए अहंकारी और सत्ता के नशे में मदमस्त सरकार ने कोई कसर बाकी नहीं रखी. साम, दाम, दंड, भेद का खुला खेल चल रहा है. लेकिन कांग्रेस न कभी झुकी है और न झुकेगी.’

 

बीजेपी के वादे सिर्फ ड्रामेबाजी और कुर्सी हथियाने की चाल थी: सोनिया गाँधी

सोनिया गांधी ने पीएम मोदी के वादों और नारों को भी निशाने पर लिया. उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री मोदी और उनके करीबियों के झूठे, फर्जी दावों और भ्रष्टाचार का हम सबूतों के साथ खुलासा कर रहे हैं. लोग अब समझ रहे हैं कि 2014 के ‘सबका साथ, सबका विकास’ और ‘मैं ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा’ जैसे उनके वादे सिर्फ और सिर्फ ड्रामेबाजी और वोट हथियाने की चाल थी. कुर्सी हथियाने की चाल थी’

 

कांग्रेस की जीत, देश की जीत: सोनिया गाँधी 

सोनिया गांधी ने कहा, ‘कांग्रेस सिर्फ एक राजनीतिक दल नहीं है, बल्कि कहीं आगे की सोच है. ये हमारे राष्ट्रीय जीवन का 133 वर्षों से इसलिए अभिन्न अंग है, क्योंकि इसमें लोगों को भारतीय संस्कृति की तस्वीर दिखाई देती है. पार्टी की जीत देश की जीत होगी और हम सबकी जीत होगी.’

हमसे जुड़ने के लिए jiopost.com के फेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here