me>

वृंदा करात ने जुनैद के परिवार को दिया 10 लाख का चेक

ट्रेन में सीट को लेकर हुए झगड़े में जुनैद की हत्या कर दी गयी थी

0
184
JUNAID
भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) की पूर्व राज्य सभा सांसद वृंदा करात जुनैद के पिता जलालुद्दीन चेक देती हुई

FARIDABAD: भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) ने जुनैद की माता शायरा व पिता जलालुद्दीन को 5-5 लाख रुपये के चेक आर्थिक मदद के रूप में दिया है.

माकपा की केरल राज्य कमेटी द्वारा केरल की जनता से एकत्रित की गई यह राशि पार्टी की पोलिट ब्यूरो सदस्य एंव पूर्व राज्य सभा सांसद कामरेड वृंदा करात व हरियाणा राज कमेटी के सचिव कामरेड सुरेन्द्र मलिक ने जुनैद के गांव खंदावली में पहुँच कर दी. उनके साथ जिला सांगठनिक कमेटी के सचिव शिव प्रसाद, सीटू के जिला प्रधान निरंतर पराशर, महासचिव लाल बाबू शर्मा, जनवादी महिला समिति की नेता मंजू व सुधा पाल आदि थे।

इस अवसर पर कामरेड वृंदा करात ने कहा की केरल के मुख्यमंत्री कामरेड पिनारई विजयन से जुनैद का परिवार नई दिल्ली में 25 जुलाई को मिला था. मुख्यमंत्री पिनारई विजयन उस वक्त पार्टी की केन्द्रीय कमेटी की मीटिंग में भाग लेने के लिए दिल्ली आए हुए थे. मुख्यमंत्री ने जुनैद की निर्मम हत्या की कड़े शब्दों में निन्दा करते हुए संवेदनाएं प्रकट की थी तथा हर संभव मदद करने का भरोसा परिजनों को दिया था. इस बारे मुख्यमंत्री ने केरल की राज्य कमेटी से बातचीत करके उक्त आर्थिक मदद जनता से एकत्रित की.

वृंदा करात ने कहा कि पार्टी जुनैद के परिवार के प्रति एकजुटता प्रकट करती है और अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा मिले इसके लिए जुनैद के परिवार की हर संभव मदद करेगी. जिस प्रकार से सरकार के दबाव में जुनैद के मामले में रेलवे पुलिस काम कर रही हैं,  इससे आम जनता का कानून व्यवस्था से विश्वास उठ जायेगा.

राज्य सचिव कामरेड सुरेन्द्र मलिक ने कहा कि माकपा साम्प्रदायिक, जाति व लिंग के आधार पर नफरत फैला कर की जा रही हत्याओं की ना केवल कड़ी निंदा करती है बल्कि इनके खिलाफ हर स्तर पर आवाज को बुलंद करेगी. पार्टी किसान, मजदूर, छात्र, नौजवान, महिलाओं की एकता को मजबूत करते हुए सरकार की नव-उदारीकरण, जाति एंव धर्म के नाम पर किये जा रहे ध्रुवीकरण के प्रयासों के खिलाफ देशव्यापी आन्दोलन तेज करेगी.

हमसे जुड़ने के लिए jiopost.com के फेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here