me>

श्रीलंका में दंगों के बाद आपातकाल

श्रीलंका में बौद्धों एवं अल्पसंख्यक मुस्लिमों के बीच हिंसक झड़प के कारण बिगड़ा माहौल

0
81
फेसबुक से

नई दिल्ली: कैंडी जिले में सांप्रदायिक हिंसा भड़कने के बाद श्रीलंका ने 10 दिनों के लिए आपातकाल की घोषणा कर दी है. कैंडी जिले में सोमवार को सिंहली बौद्धों एवं अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय के बीच हिंसक झड़पों के बाद श्रीलंका सरकार ने यह कदम उठाया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इन दंगों में अब तक 2 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कई मस्जिदों और घरों को ढहा दिया गया है. पिछले हफ्ते में एक सिंहल बौद्ध व्यक्ति की हत्या कर दी गई थी, जिसके बाद मध्य पहाड़ी जिले के एक इलाके में हिंसा भड़क गई.

सरकार ने कैंडी में कर्फ्यू लगाने और सुरक्षा के मद्देनजर वहां सेना और विशेष पुलिस कमांडो भेज दिए हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सामाजिक सशक्तिकरण मंत्री एसबी दिशानायके नें मंत्रिमंडल की बैठक के बाद कहा कि राष्ट्रपति मैत्रीपाला और उनके मंत्रियों ने देश के कुछ भागों में भड़की हिंसा को देखते हुए 10 दिन के राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा को मंजूरी दे दी है.

मुस्लिमों ने दावा किया है कि अल्पसंख्यकों की कम से कम 10 मस्जिदे 75 दुकानें और 32 घर सिंहली बौद्धों के हमले में बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिए गए हैं.

इसके बाद दोनों समुदायों के बीच हिंसा रोकने के लिए पुलिस नें आंसू गैस के गोले छोड़े और रात में ही कर्फ्यू लगा दिया. एक इमारत के अवशेष से एक मुस्लिम की जली हुई लाश मिलने के बाद कैंडी के कई हिस्सों में हालात तनावपूर्ण बने हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार एसबी दिशानायके ने कहा कि राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा पर राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बाद एक सरकारी अधिसूचना जारी कर दी जाएगी.

हमसे जुड़ने के लिए jiopost.com के फेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here