me>

लड़की ने प्रेमी को बंदूक के बल पर किया था अगवा, अब रचाई शादी

प्यार हमसे किया और शादी किसी दूसरे से.... यह बर्दाश्त नहीं....

0
468
Wedding symbol photo

NEW DELHI: उत्तर प्रदेश के बाँदा में कुछ दिनों पहले अपने प्रेमी को पिस्टल के बल पर शादी के मंडप से अगवा करने वाली लड़की वर्षा शाहू आख़िरकार अपने मकसद में कामयाब हो गई है. गुरु पूर्णिमा के दिन वर्षा शाहू ने अपने प्रेमी अशोक यादव के साथ सात फेरे लिए. आपको यहाँ बता दें कि प्रेमी अशोक यादव और प्रेमिका वर्षा एक प्राइवेट क्लिनिक में नौकरी करते थें. नौकरी के दौरान ही दोनों एक दूसरे से प्यार करने लगे. पहले प्रेमी अशोक नें प्रेमिका वर्षा से शादी का वादा किया लेकिन बाद में अपनी शादी कहीं और तय हो जाने के कारण मुकर गया था.

तब प्रेमिका नें फ़िल्मी स्टाईल में तमंचे के बल पर प्रेमी को किया था किडनैप..


प्रेमिका को जब अपने प्रेमी की शादी किसी दूसरी लड़की से होने की खबर मिली तो उसने ‘रिवाल्वर रानी’ का रूप धारण कर लिया था. वर्षा शाहू अपने दो सहयोगियों के साथ स्कार्पियो से बारात में पहुंची और तमंचे के बल पर दुल्हे को मंडप से अगवा कर लिया था. पूरी तरह फ़िल्मी स्टाईल में जनवासे से प्रेमी को अगवा किये जाने की इस घटना को दुल्हन सहित सभी लोग बस देखते ही रह गये थे. परिजनों द्वारा रिपोर्ट दिए जाने के बाद पुलिस ने प्रेमिका को गिरफ्तार कर प्रेमी को बरामद कर लिया था.

क्या हुआ था 15 मई की रात को ….


विगत 15 मई को तय कार्यक्रम के अनुसार अशोक की बारात भवानीपुर गांव पहुची थी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बारातियों के स्वागत के बाद जायमाला का कार्यक्रम भी संपन्न हो चुका था. रात के करीब डेढ़ बजे के आसपास चढ़ावा चढाने की रश्म के दौरान दुल्हे की प्रेमिका वर्षा दो अन्य युवकों के साथ स्कार्पियो गाड़ी पहुची और दुल्हे के सिर पर तमंचा लगाकर बोली कि “प्यार हमसे किया और शादी किसी दूसरे से…. यह बर्दाश्त नहीं….

अपनी शादी के मंडप में अचानक से प्रकट हुई प्रेमिका का यह रूप देखकर दुल्हे के होश उड़ गये थे . इसके बाद वह तमंचे के बल पर दुल्हे को मंडप अगवा कर ले गई. घटना के बाद परिजनों ने डायल 100 पर पुलिस को मामले की सूचना दी थी.

जेल से निकलने के बाद ही अशोक ने जता दी थी वर्षा से शादी की इच्छा..


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जिस लड़की से अशोक की शादी हो रही थी उसके पिता ने अशोक उसके पिता,चाचा व भाई पर मुकदमा दर्ज करा दिया था. 28 मई को अशोक को जेल भेज दिया गया था. 3 जुलाई को अशोक की जमानत के बाद ही अशोक ने वर्षा से शादी की इच्छा जता दी थी. इसके बाद हमीरपुर क्षेत्र के चौरादेवी मंदिर में दोनों की शादी संपन्न हुई. इस शादी में जहां अशोक के परिजन शामिल नहीं हुए वहीं वर्षा की माँ काफी खुश नजर आई और ठुमके लगाकर ख़ुशी का इजहार किया.

 वर्षा नें बनाया ‘रिवाल्वर रानी’ संगठन


मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वर्षा नें ‘रिवाल्वर रानी’ नामक संगठन भी बनाया है. अपनी शादी के बाद काफी खुश दिखी वर्षा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि अपने संगठन से वह शोषित महिलाओं को जोड़ेगी और उन्हें न्याय दिलाने के लिए संघर्ष भी करेगी.

 

 

हमसे जुड़ने के लिए jiopost.com के फेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here