me>

यूपीआरटीओयू के कुलपति बने प्रोफेसर के. एन. सिंह

प्रो. के.एन. सिंह ने कहा कि गुणवत्तापूर्ण रिसर्च के लिए नई खोज और सुझावों को शिक्षा में शामिल कराना बेहद जरूरी है. पूरा प्रयास होगा कि इसे अमली जामा पहनाया जा सके.

0
74
प्रो. के.एन.सिंह

गोरखपुर: डीडीयू गोरखपुर विश्वविद्यालय के भूगोल विभाग के विभाग के अध्यक्ष प्रो. के.एन. सिंह को यूपी राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय (यूपीआरटीओयू) का नया कुलपति बनाया गया है. राज्यपाल राम नाईक ने चार विश्वविद्यालयों में कुलपति की नियुक्ति कर दी है.

मूल रूप से बलिया के बर्रेबोझ गांव के प्रोफेसर के. एन. सिंह ने 1987 में बतौर प्रवक्ता गोरखपुर यूनिवर्सिटी ज्वाइन किया.

2006 से वह प्रोफ़ेसर के पद पर यूनिवर्सिटी में सेवाएं दे रहे हैं. उन्होंने एनएसएस कोआर्डिनेटर, झारखंड केंद्रीय विश्वविद्यालय के कार्य परिषद सदस्य समेत कई महत्वपूर्ण पदों पर अपनी सेवाएं दी है.

14 पुस्तके लिखने के साथ ही उन्होंने अपने मार्गदर्शन में साठ रिसर्च पेपर तैयार कराए हैं.  अबतक वह पंडित दीनदयाल शोध पीठ के डायरेक्टर, भूगोल विभाग के अध्यक्ष समेत संविकास पत्रिका के संपादक की भूमिका निभा रहे थे.

उनकी उपलब्धियों के लिए पुणे की डेक्कन एसोसिएशन ऑफ़ ज्योग्राफर ने उन्हें 2014 में उत्कृष्ट शिक्षक के लिए सम्मानित किया है.

कुलपति बनाये जाने के बाद प्रोफेसर कामेश्वर नाथ सिंह ने कहा कि उच्च शिक्षा को हर तबके तक पहुंचाना ही उनका मुख्य उद्देश्य है. उच्च शिक्षा से वंचित वर्ग कहीं भी हो उसे ज्ञान अर्जित की सुविधा मिल सके इसकी पूरी कोशिश होगी.

प्रो. के.एन. सिंह ने कहा कि गुणवत्तापूर्ण रिसर्च के लिए नई खोज और सुझावों को शिक्षा में शामिल कराना बेहद जरूरी है. पूरा प्रयास होगा कि इसे अमली जामा पहनाया जा सके.

हमसे जुड़ने के लिए jiopost.com के फेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here