me>

शिकायत पर गोरखपुर-बस्ती के खनन अधिकारी सस्पेंड

भट्ठा मालिकों का आरोप था कि खनन अधिकारी उन्हें परेशान कर वसूली करते हैं.

0
58
खनन की प्रतीकात्मक फोटो

गोरखपुर: बालू खनन के लिए टेंडर प्रक्रिया में देर करने और विभिन्न अनियमितताओं की शिकायत पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर गोरखपुर के खनन अधिकारी रंजीत निर्मल सिंह को निलंबित कर दिया गया है.

निर्मल के पास बस्ती के खनन अधिकारी का भी चार्ज था. उनके खिलाफ जांच भी शुरू हो गयी है. खनन विभाग द्वारा की जा रही लापरवाही से जनता परेशान है.

शासन के निर्देश के बाद भी गोरखपुर और बस्ती जिले में बालू का टेंडर निकालने में काफी देर हो गयी. इसे गंभीरता से लेते हुए शासन ने रंजीत निर्मल को सस्पेंड किया है.

सूत्रों की माने तो गोरखपुर दौरे पर आये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर कुछ ईट भट्ठा मालिकों ने खनन में अवैध वसूली की शिकायत की थी. बताते हैं कि यह शिकायत 26 फरवरी को हुई थी, जब मुख्यमंत्री गोरखपुर के दो दिवसीय दौरे पर आए थे.

भट्ठा मालिकों का आरोप था कि खनन अधिकारी उन्हें परेशान कर वसूली करते हैं. शिकायत को गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री ने उच्चाधिकारियों को कार्रवाई के निर्देश दिए. अब खनन अधिकारी को निलंबित कर उनके खिलाफ जांच शुरू कर दी गयी है.

हमसे जुड़ने के लिए jiopost.com के फेसबुक पेज को लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here